Digital Marketing in Hindi

डिजिटल मार्केटिंग क्या है? Digital Marketing Kya hai? Hindi

Spread the love

आज के दौर में सब कुछ आनलाईन हो गया है. इंटरनेट ने आज की दुनिया को पूरी तरह बदल दिया है. इससे अनेक काम बहुत आसान हो गए हैं. इसके माध्यम से हम तमाम चीजों का आनंद  फोन,लैपटाप या कम्प्युटर के  जरिये उठा सकते हैं.

बिल पेमेंट, आनलाईन ट्रांजैक्शन, टिकट बुकिंग, मोबाईल रिचार्ज, टिकट बुकिंगऔर आनलाईन शापिंग जैसे तमाम काम इन्टरनेट के जरिये आसानी से हो जाते हैं .

डिजिटल मार्केटिंग क्या है ? Digital Marketing in Hindi

इंटरनेट के बढ़ रहे उपयोग के कारण  कारोबारी अब आनलाईन मार्केटिंग का सहारा ले रहे हैं .आज बड़ी संख्या में ग्राहक कोई सामान खरीदने अथवा सर्विस लेने के पहले उसके बारे में आनलाईन रिसर्च करते हैं इसलिए आज कारोबार को आसान बनाने और उसे बढाने के लिए डिजिटल मार्केटिंग आवश्यक हो गयी है .डिजिटल मार्केटिंग का अर्थ  है ?

सेवाओं अथवा वस्तुओं की डिजिटल साधनों से मार्केटिंग करने की प्रक्रिया को डिजिटल मार्केटिंग कहते हैं . डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट के जरिये की जाती है .डिजटल मार्केटिंग से हम इंटरनेट,कंप्यूटर,मोबाईल फोन,लैपटाप या किसी अन्य माध्यम से  से जुड़ सकते हैं.

डिजिटल मार्केटिंग की शुरुआत १९८० के दशक में हुई . इसे आनलाईन मार्केटिंग भी कहा जाता है.यह नए ग्राहकों तक पहुँचने का आसान तरीका है. डिजिटल मार्केटिंग के जरिये कम समय में अधिक ग्राहकों तक पहुंचा जा सकता है . इसके माध्यम से ग्राहक के रुझान का भी पता लगाया जा सकता है.

डिजिटल मार्केटिंग क्यों जरुरी है? Why is Digital Marketing Important?

आज इंटरनेट सभी जगह उपलब्ध है . लोगों के पास आज समय की कमी  है .इसीलिये डिजिटल मार्केटिंग जरुरी हो गयी है .आज हर व्यक्ति इंटरनेट से जुड़ा है इसलिए इसका इस्तेमाल आसानी से कर सकता है.

अतः डिजिटल मार्केटिंग आसानी से अपनी जगा बना रही है .ग्राहक अपनी सुविधानुसार अपनी पसंद की चीजें खरीद सकते हैं. बिना बाजार गए  वे अपनी पसंद की चीजें खरीद सकते हैं .इसीलिये आज डिजिटल मार्केटिंग जरुरी हो गयी है .कारोबारी को भी अपना कारोबार बढाने में मदद मिल रही है .वह कम  समय में अधिक ग्राहक तक पहुँच सकता है और अपना कारोबार आसानी से बढ़ा सकता है.

डिजिटल मार्केटिंग की मांग – Demand of Digital Marketing

परिवर्तन प्रकृति का नियम है .पहले की अपेक्षा आज जीवन पद्धति पूरी तरह बदल गयी है . आज इंटरनेट की सर्वव्यापकता के कारण एक साथ कई लोगों तक पहुंचना आसान हो गया है .पहले यह काम इतना आसान नहीं था .डिजिटल मार्केटिंग के जरिये हम कम समय में बहुत अधिक करोबारियों और ग्राहकों से से सम्पर्क स्थापित कर सकते हैं .

व्यापारी को अपनी सेवा या वास्तु के प्रचार के लिए अब अख़बार, विज्ञापन या पोस्टर की मदद नहीं लेनी पड़ती .सबकी  सुविधा इसकी  बढ़ती मांग का कारण है . अब डिजिटल मार्केटिंग की विश्वसनीयता  बढ़ती  जा रही है.

डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार – Types of Digital Marketing

डिजिटल मार्केटिंग के लिए इंटरनेट जरुरी है.

इंटरनेट पर हम एसईओ,सोशल मीडिया,ईमेल,यूट्यूब,एफिलियेटेड मार्केटिंग,पीपीसी मार्केटिंग,एप्स मार्केटिंग आदि के द्वारा डिजिटल मार्केटिंग कर सकते हैं.

डिजिटल मार्केटिंग की उपयोगिता – Uses of Digital Marketing

आप अपनी वेबसाईट पर ब्रोशर बनाकर उस पर अपने उत्पाद का विज्ञापन लोगों के लेटर बाक्स पर भेज सकते हैं.

सबसे ज्यादा दर्शकों की भीड़ किस वेबसाईट पर है ,पहले ये जान लें फिर उस वेबसाईट पर अपना विज्ञापन डाल दें ताकि आपको अधिक लोग देख सकें. एक विशेष टूल का प्रयोग कर आप दर्शकों की रूचि का पता लगा सकते हैं.

निष्कर्ष – Conclusion

डिजिटल मार्केटिंग आज ऐसा माध्यम बन गया है जिसके माध्यम से अपने कारोबार को बढाया जा सकता है .इसके माध्यम से व्यापारी और ग्राहक के बीच अच्छा तालमेल बनाया जा सकता है.

Thanks for Visiting RavivarPost.com!


Spread the love

Leave a Comment