नेटवर्क मार्केटिंग स्किल Network Marketing Skills (Hindi)

Spread the love

 

 

नेटवर्क मार्केटिंग बिजनेस २१ वीं सदी का बिजनेस है. भारत की विशाल आबादी को देखते हुए यहाँ इस बिजनेस के अधिक डेवलप होने की संभावना है. इसमें हम बहुत कम पैसे में बड़ा व्यापर शुरू कर सकते हैं और अपने सपनों को पूरा कर सकते हैं. यह लेख कुछ कौशलों और आदतों के बारे में है जिन्हें आपको सीखने और विकसित करने की आवश्यकता है. यह नेटवर्क मार्केटिंग व्यवसाय में सफलता के लिए जरुरी है. आपको जितने पैसे की आवश्यकता होगी, यह व्यवसाय दिलाने की क्षमता रखता है.

आज लोगों की जीवन शैली बदल रही है और व्यवसाय के तरीके बदल रहे हैं. इस पेशे में आम तौर पर केवल ८ मूल कौशल हैं जिन्हें आपको सीखने और मास्टर बनने की आवश्यकता है. यह वास्तव में चीजों को सरल बनाने में मदद करता है. यह अपने आप को सफल बनाने का तरीका है. नेटवर्क मार्केटिंग व्यवसाय को शुरू करने और विकसित करने के लिए कुछ चीजों को मैनेज करने और सीखने की जरुरत है.

इस व्यवसाय में सफल होने के लिए कुछ चीजें हैं जिन्हें आपको सीखने की आवश्यकता है. और फिर आप जो कुछ भी चाहते हैं वह आपका होगा. हालांकि समस्या यह है कि ज्यादातर नए लोग जो व्यवसाय शुरू करते हैं वे पाते हैं कि वे अचानक ऐसे काम कर रहे हैं जो उन्होंने पहले कभी नहीं किए थे. इससे लोग असहज महसूस करते हैं और वे लोग बिजनेस छोड़ने लगते हैं. यह मत करो. आपको यह जानना है कि यह एक संक्रमण काल है जहाँ आपको नई आदतें और कौशल सीखने होंगे.

नेटवर्क मार्केटिंग स्किल

नीचे कुछ कौशल और आदतें दी गयीं हैं जिन्हें नेटवर्क मार्केटिंग व्यवसाय के लिए सीखने और विकसित करने की आवश्यकता है.

१. संबंध बनाना:

पहला कौशल लोगों के साथ संबंध बनाना है. यह मार्केटिंग का हिस्सा है. यह कई अलग-अलग तरीकों से किया जा सकता है, जैसे दोस्तों और परिवार के साथ बात करना, या ऐसे लोगों के साथ जुड़ना जो आपके तत्काल नेटवर्क में नहीं हैं. यह आमने-सामने या टेलीफोन पर हो सकता है, और सबसे पहले शायद आपको असहज महसूस होगा. यह सामान्य है और बस याद रखें कि यह समय के साथ आसान और आसान हो जाता है. एक ऐसा लक्ष्य निर्धारित करना है, जहां आप लोगों को प्लान दिखा सकते हैं और उन्हें यह तय करने दे सकते हैं कि यह उनके लिए अच्छा है या नहीं.

2. अवसर को प्रस्तुत करना:

मास्टर बनने के लिए अगला कौशल व्यापार अवसर को साझा करने की क्षमता है. यह हर कंपनी में भिन्न होता है. लेकिन आम तौर पर 20 मिनट की व्यावसायिक प्रस्तुति के माध्यम से किया जाता है. ज्यादातर लोगों को पहले किसी के सामने प्रस्तुतियां देने की आदत नहीं होती है. इससे आपको पहली बार असहज महसूस होगा. यह भी समय के साथ आसान हो जाता है. बस याद रखें कि आप लोगों को अपने जीवन को बेहतर बनाने के लिए एक रास्ता दिखा रहे हैं.

3. प्रभावी फालोअप :

इस कहावत को याद रखें “भाग्य फालोअप में है”. यह एक तथ्य है कि ज्यादातर लोग सीधे इसमें शामिल नहीं होते हैं. ऐसा इसलिए है क्योंकि इसमें 7-10 स्पर्श बिंदु मिलते हैं जिसे जानकर लोग बिजनेस में आते हैं. इसका मतलब है कि आपको लोगों के साथ नियमित संपर्क में रहने और धीरे धीरे उन्हें आगे बढ़ाने की आदत डालनी होगी. यहाँ अभ्यास और धैर्य चाहिए.

4. डाउनलाइन की मदद :

इस धंधे को विकसित करने के लिए आपको अपने नए व्यापार भागीदार को तेज गति से सक्षम बनाना होगा. यहाँ लोगों के लिए डर का अनुभव करना सामान्य है, लेकिन उन्हें डर से निकलने में उनकी मदद करे ताकि आपके नए भागीदार नेटवर्क में सफल हों. यह आपके व्यवसाय को विकसित करने का सबसे कारगर तरीका है. आप नए लोगों को इतना सिखाइए कि उनके लिए ये बिजनेस आसान लगने लगे. उन्हें बताएं कि जब आप इसे करते हैं तो यह आसान होता जाता है.

5. ट्रेनिंग :

आप अपने नए पार्टनर को अधिक से अधिक सिखाएं ताकि वे बाधाओं को दूर करने और सफल बनने में सक्षम हो सकें. आपको उनका “बिजनेस कोच” बनकर उनकी मदद करना है ताकि वे सफलता की राह पर बढ़ते रहें. अपनी डाउनलाइन को विकसित करना और उन्हें विकसित होते हुए देखना सबसे फायदेमंद है.

6.लक्ष्य बनायें :

लक्ष्य निर्धारित करना, योजना बनाना और समय प्रबंधन इस व्यवसाय में एक महत्वपूर्ण कौशल है, जिसे सीखने, अभ्यास करने, विकसित करने और महारत हासिल करने की आवश्यकता है. अन्य सभी कौशल की तरह, इसे हम स्कूल में नहीं सीखते हैं. यह एक ऐसी चीज है जिसे हमें सीखना है और लगातार हर दिन, सप्ताह, महीने और साल पर काम करना है. जब तक कि यह एक आदत नहीं बन जाती. अच्छी बात यह है कि 3 महीने के अभ्यास के बादब यह नई आदत सुबह के समय अपने दांतों को ब्रश करना जितना आसान हो जाता है.

7. व्यक्तित्व विकास:

व्यक्तिगत विकास सफलता का एक और महत्वपूर्ण कारक है. याद रखें: नेटवर्क मार्केटिंग कठिन या आसान नहीं है. समस्या यह है कि जब आप पहली बार शुरू करते हैं तो यह वह होता है जो बहुत अच्छा नहीं है. आपको बेहतर होने के लिए खुद पर काम करना होगा. आपको अपनी आदतों (बुरी आदतों) पर काम करना होगा. आपको अपने कौशल और विश्वास पर काम करना होगा. चीजें आसान नहीं होतीं, कि अपने को बेहतर बनाना होता है. आप जितना बेहतर होंगे, यह सब उतना ही आसान हो जाएगा.

८. सही उम्मीदों के साथ शुरू करें:

अंतिम कुंजी सही अपेक्षाओं के साथ अपने व्यवसाय को शुरू करना है. इसे किसी अन्य पेशे या प्रतिस्पर्धी खेल की तरह मानें. यह 3 साल की योजना है. ऐसा कुछ नहीं है जिसे आप केवल 3 महीने के लिए आज़माएँ. कोई भी व्यक्ति सफल हो सकता है यदि वह इन कौशलों को सीखने और विकसित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.

निष्कर्ष:

दोस्तों उक्त बातों का अभ्यास करके आप बिजनेस शुरू करें और अपना खुद का सफल नेटवर्क मार्केटिंग व्यवसाय बनाएं. हम नई चीजें सीखकर और दूसरों की मदद करके सफल बन सकते हैं. यदि आप कोई और जानकारी चाहते हैं तो आप कमेन्ट बाक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं. विशेष जानकारी के लिए आप मोबाइल नंबर ८१०४७९३६७५ पर संपर्क भी कर सकते हैं.


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *