स्ट्रीट वेंडर लोन योजना (Hindi) Street Vendor Loadn Yojana

Spread the love

 

केंद्र सरकार ने पीएम स्वनिधि योजना शुरू करने की घोषणा की है. इस योजना का लाभ उन लोगों को दिया जाएगा जो सड़क विक्रेता हैं और छोटी छोटी दुकानें लगाकर आजीविका चलाते हैं.

१. प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना का उद्देश्य उन ५० लाख विक्रेताओं को लाभान्वित करना है, जिनके पास २४ मार्च को या उससे पहले अपना कारोबार चालू था. इस योजना की घोषणा वित्तमंत्री ने COVID-१९ महामारी से प्रभावित लोगों के लिए आर्थिक पैकेज के एक भाग के रूप में की थी. यह योजना मार्च २०२२ तक वैध है.

२. यह लोन उन लोगों को दिया जाएगा जो सड़क के किनारे, ट्रॉली या सड़क-पटरियों पर दुकानें चलाते हैं.फल-सब्जी, कपड़े धोने, सैलून और पान की दुकानें भी इस श्रेणी में शामिल हैं. यह लोन बहुत आसान शर्तों पर दिया जाएगा. इसके लिए किसी गारंटी की जरूरत नहीं है.

३. सरकार ने इस मुद्दे के लिए ५००० करोड़ रुपये की राशि रखी है. इस ऋण को लेने के लिए किसी ज़मानत की जरुरत नहीं है. इस योजना के तहत स्ट्रीट वेंडरों को उनके कामकाज में मदद करने के लिए १० हजार रुपये तक का ऋण दिया जाएगा.

४. ऋण को जल्दी चुकाने पर ७ % सब्सिडी लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधे जमा की जाएगी. इस योजना में किसी प्रकार के जुर्माने का प्रावधान नहीं है.

५. इस योजना के तहत अधिकतम १० हजार तक लोन मिल सकेगा. लेकिन यदि कोई व्यक्ति इससे कम लोन चाहता है तो उसे कम लोन भी दिया जायेगा. इस योजना का फायदा शहर और ग्रामीण क्षेत्र के स्ट्रीट वेंडर उठा सकते हैं.

६. योजना का लाभ लेने के लिए पीएम स्वनिधि योजना की आधिकारिक वेबसाईट पर जाकर आवेदन करना होगा. इसके लिए बैंकों के माध्यम से आफलाइन आवेदन भी किया जा सकता है.

७. इस योजना से नाई, मोची, पान के दुकानदार, सड़क के किनारे सब्जी बेचने वाले, धोबी, फल विक्रेता, चाय बेचने वाले, स्ट्रीट फ़ूड विक्रेता, फेरी वाले वस्त्र विक्रेता, अंडा, ब्रेड पकौड़ा और चाऊमीन वेचने वाले, किताब बेचने वाले, कारीगर, तथा सभी प्रकार के छोटे कारोबारी फायदा उठा सकते हैं.


Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *