वयोश्री योजना क्या है? Vayoshri Yojana Kya Hai? (Hindi)

  • by

सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने १ अप्रैल२०१७ को बीपीएल श्रेणी से संबंधित वरिष्ठ नागरिकों को सहायक उपकरण प्रदान करने के लिए राष्ट्रीय वयोश्री योजना शुरू की है.

इस योजना के तहत बीपीएल श्रेणी से संबंधित विकलांगता / दुर्बलता से पीड़ित लोगों को ऐसे उपकरण दिए जाते हैं जो उनके शारीरिक कार्यों में सहायक हो सकते हैं.

इस योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों को वॉकिंग स्टिक्स, एल्बो क्रचेज, वॉकर / क्रचेज, ट्राइपोड्स / क्वॉडपॉड्स, हियरिंग एड्स, व्हीलचेयर, आर्टिफिशियल डेंचर और स्पेक्टेकल्स जैसे सहायक उपकरण मुफ्त में उपलब्ध कराए जाते हैं.

राष्ट्रीय वयोश्री योजना

१. यह योजना सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय (Ministry of SJ&E) के तहत सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम “कृत्रिम अंग विनिर्माण निगम (ALIMCO)” के माध्यम से कार्यान्वित की जा रही है.

उपकरणों को शिविर के माध्यम से वितरित किया जाता है. लाभार्थियों की पहचान संबंधित राज्य सरकार / जिला प्रशासन के सहयोग से आयोजित मूल्यांकन शिविरों के माध्यम से की जाती है और उपकरणों का वितरण चयनित जिलों में आयोजित शिविरों में किया जाता है.

८० वर्ष या उससे अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों को उनके घर पर उपकरण प्रदान किए जाते हैं.

२. वर्तमान में राष्ट्रीय वयोश्री योजना के कार्यान्वयन के लिए कुल ३२५ जिलों का चयन किया गया है. २५ जनवरी २०१९ तक लाभार्थियों की पहचान करने के लिए मूल्यांकन शिविर १३५ जिलों में पूरा किया गया है, ७७ वितरण शिविर आयोजित किये गये हैं, जिसमें बीपीएल श्रेणी से संबंधित ७०९३९ वरिष्ठ नागरिकों को लाभान्वित किया गया है.

३. इस योजना से लाभ उठाने के लिए आवेदक की उम्र ६० वर्ष से अधिक होनी चाहिए. उसे भारत का नागरिक होना चाहिए. आवेदक बीपीएल श्रेणी से होना चाहिए. उसके पास आधार कार्ड, पहचान पत्र, राशन कार्ड, शारीरिक अक्षमता प्रमाणपत्र, मोबाइल नंबर और पासपोर्ट साईज फोटो जरुरी है.

४. जो लोग इस योजना से लाभ लेना चाहते हैं उन्हें योजना की आफिसियल वेबसाईट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा. इस प्रकार से आप इस योजना में पंजीकरण करा सकते हैं. यदि आपको अपने आवेदन की स्थिति देखनी हो तो भी आपको आफिसियल वेबसाईट पर जाकर उसे चेक करना होगा. इस योजना की आफिसियल वेबसाईट www. alimco. in/index. aspx है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *